राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अन्तर्गत वैसे लाभुक योजना के निर्धारित मानको के पात्र नहीं है अपना कार्ड सरेंडर करें अन्यथा होगी

जामताड़ा:- उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी, जामताड़ा फ़ैज़ अक अहमद मुमताज के निदेशानुसार
जिला आपूर्ति पदाधिकारी विकास तिर्की द्वारा बताया गया कि जिले में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम लागू है, जिसके अन्तर्गत अंत्योदय (AAY) एवं पूर्वविक्ता प्राप्त गृहस्थ योजना (PHH) के माध्यम से खाद्यान्न वितरण किया जा रहा है। ऐसी सूचना प्राप्त हो रही है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अन्तर्गत वैसे लाभुक योजना के लाभ प्राप्त कर रहें है, जो निर्धारित मानको के पात्र नहीं है। विदित हो कि लाभुको का चयन सरकार द्वारा निर्धारित मानको के आलोक में किया गया है। *वैसे व्यक्ति/परिवार इस अधिनियम के अन्तर्गत लाभ के पात्र नहीं होगें जो अपवर्जन मानक के अंतर्गत आते है, उक्त हेतु अपवर्जन मानक निम्न प्रकार है ।

  1. जिनके परिवार का कोई भी सदस्य भारत सरकार/राज्य सरकार/केन्द्रशासित प्रदेश या इनके परिषद/उद्यम/ प्रक्रम/उपक्रम/अन्य स्वायत निकाय जैसे विश्वविद्यालय इत्यादि/नगर निगम/नगर पर्षद/नगर पालिका/न्यास इत्यादि में नियोजित है अथवा।
  2. जिनके परिवार का कोई सदस्य आयकर/सेवा कर/व्यवसायिक कर देते हैं, अथवा।
  3. जिनके परिवार के पास पाँच एकड़ से अधिक सिंचित भूमि अथवा दस एकड़ से अधिक भूमि है, अथवा।
  4. जिनके परिवार का कोई सदस्य के नाम से चार पहिया मोटर वाहन है अथवा।
  5. जिनके परिवार का कोई सदस्य,सरकार द्वारा पंजीकृत उधम का स्वामी या संचालक हैं अथवा।
  6. जिनके परिवार के पास रेफ्रिजरेटर/एयर कंडिशनर/वॉशिंग मशीन है अथवा।
  7. जिनके परिवार के पास कमरों में पक्की दीवारें छत के साथ तीन या उससे अधिक कमरों का मकान है अथवा।
  8. जिनके परिवार के पास मशीन चालित चार पहिये वाले कृषि उपकरण (ट्रेक्टर) इत्यादि है। वैसे लाभुक जो निर्धारित मानकों के आलोक में पात्र नहीं हैं। उन्हे सूचित किया जाता है कि वे अपना राशन कार्ड प्रखण्ड के प्रखण्ड आपूर्ति पदाधिकारी/ पणन पदाधिकारी,/जिला आपूर्ति कार्यालय, जामताड़ा में विलोपन (रद्द) करने हेतु प्रत्यक्ष रुप से या डाक के द्वारा सूचना प्रकाशन होने के 15 दिनों के अन्दर उपरोक्त कार्यालय में अनिवार्य रुप से जमा कर दें। भविष्य में आयोग्य व्यक्ति/परिवार द्वारा अधिनियम का लाभ लिये जाने की सूचना प्राप्त होने पर उनके राशन कार्ड को रद्द करने के अतिरिक्त उनके विरुद्ध राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत निहित सुसंगत धाराओं के आलोक मे नियमानुसार करवाई की जायेगी। साथ ही जिला आपूर्ति पदाधिकारी ने कहा जिले के आम नागरिकों से अनुरोध है कि वे अपने आस-पास के वैसे लोग जो योजना का गलत लाभ ले रहें है इस कार्यालय के ई-मेल supplyjamtara@gmail.com पर जानकारी दे सकते हैं। सूचना प्रदान करने वाले व्यक्ति/व्यक्तियों का नाम एवं विवरण सार्वजनिक नहीं किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here